Home > Science & Technology > Whatsapp Payments से शुरू होगा पैसों का लेन-देन

Whatsapp Payments से शुरू होगा पैसों का लेन-देन

Image by a href=httpspixabay.comusersMIH83-464187utm_source=link-attribution&utm_medium=referral&utm_campaign=image&utm_content=1357489Maret Hosemanna from a href=httpspixabay.comutm_source=link-attribution&utm_

Hello Fellows,

जैसा कि हम जानते ही हैं कि इंस्टेंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप का यूजर बेस कितना बड़ा है लेकिन सबके मन में एक ही प्रश्न है कि  आखिर कब  Whatsapp Payments से शुरू होगा पैसों का लेन-देन ? यह कंपनी भारत में सन 2019 के अंत तक अपनी ऐप “Whatsapp Payments” के जरिए पैसों के लेनदेन की शुरुआत कर सकता है व्हाट्सएप के अनुसार भारत में लगभग कंपनी के 40 करोड़ उपभोक्ता है।  

Yourstory.com को दिए गए एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया कि भारत व्हाट्सएप के लिए सबसे तेजी से बढ़ने वाली मार्केट है लोगों ने अपने बिजनेस करने के तरीके को बदल दिया है। आजकल लोग किसी को टेक्स्ट मैसेज नहीं करते बल्कि व्हाट्सएप करते हैं वास्तव में, पूरे देश में चाहे व्यवसाय हों या व्यक्ति, सभी ने व्हाट्सएप को यूज करने के अलग अलग तरीके ढूंढ लिए है।

इतना बड़ा यूजर बेस होने के चलते ही फेसबुक ने जो कि व्हाट्सएप की पैरंट कंपनी है, ने भारत को अपने पेमेंट सॉल्यूशन की टेस्टिंग करने के लिए चुना। Will Cathcart ने बताया कि सोशल मैसेजिंग एप व्हाट्सएप अपने बहुप्रतीक्षित “Whatsapp Payments” को भारत में इस साल के अंत तक लॉन्च करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

क्या है परेशानी ? 
Will ने बताया क़ि whatsapp भारतीय सरकार के साथ मिलकर whatsapp payments को लांच करने पर काम कर रही है। इसके साथ-साथ उन्होंने अलग अलग बैंको के साथ काम करने की उत्सुकता भी जताई क़ि किस प्रकार से वे अपना बिज़नेस व्हाट्सप्प उपभोक्ताओं तक पहुंचा सकते हैं।

सरकार के साथ व्हाट्सएप कंपनी का पेंच इस बात पर था कि भारतीय यूजर्स का डाटा भारत में ही स्टोर किया जाए। अब व्हाट्सएप कंपनी ने भारत में ही डाटा स्टोरेज सिस्टम बनाया है जिससे कि देश के अंदर ही डाटा को स्टोर करने की वजह रिजर्व बैंक की पॉलिसी का पालन किया जा सकेगा।

यह भी पढें: 

How to stop kids being addicted to Mobile phones?

whatsapp के ये tricks शायद नहीं जानते आप!!/whatsapp tricks you need to know

कौन हैं प्रतियोगी?

जहाँ तक कि प्रतियोगियों का सवाल हैं उनमें मुख्य रूप से google pay, Paytm, phone pe, आदि प्रमुख हैं अगर बात करें अन्य competitor की तो वोडाफ़ोन का m-pesa जुलाई 2019 में ही अपनी सेवाएं बंद कर चुका है। बड़ी बात यह है कि Whatsapp के पूरी दुनियां भर में 150 करोड़ यूज़र्स हैं और उनका सबसे बड़ा हिस्सा भारत में है।

2019 के अंत तक शुरू होने वाले Whatsapp Payments से पैसों का लेन-देन शुरू हो पायेगा या नहीं यह तो अभी भविष्य में इसके लांच होने पर ही पता चल पायेगा। लेकिन इसमें आपके क्या विचार हैं हमें हमारी ईमेल hellonewsfellow@gmail.com पर अवश्य बताएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *